श्री आदिनाथ पशुरक्षण संसथान , कानोड़ 

 भगवन महावीर की अमृतवाणी ‘ जिओ और जीने दो ‘ को आत्मसात करते हुए संघ द्वारा अनेक गौशालाओं एवं जीवदय केन्द्रों को सहायता दी जाती है । कानोड़ स्थ्ति श्री आदिनाथ पशुरक्षण संसथान नामक गौशाला का संचालन संघ द्वारा किया जा रहा है । इस गौशाला में वर्तमान में 125 से अधिक गायें है ।    

श्री आदिनाथ पशुरक्षण संसथान , कानोड़