महिमा मंडित स्व. आचार्य श्री नानेश के तत्वावधान मे  जैन सिद्धांत विश्वकोष के लेखन का कार्य संपन्न हुआ था। इसमें कथानक के माध्यम से सुंदर उदाहरण प्रस्तुत किए गए थे जो अतयंत ही रोचक थे एवं बच्चों के लिए पठनीय व प्रेरणीय थे। विश्वकोष में से उन कथानकों को विभक्त कर अलग से कथाओं / कहानियों का संकलन किया गया जिसे समता कथा माला के नाम से अलंकृत किया गया। इस कथा माला में अब तक 1 से 15 तक की श्रृंखला प्रकाशित हो चुकी है।


समता कथा माला